PATIALA BUS STOP

STORY ONE LINE -------  बस में जो हुएा उसको पढ़ कर आपकी हॅसी निकल आऐगी.



सुबह का समय है .....मैं सडक पर आकर खडा हो गया और बस के आने का इंतजार करने लगा
 ....पास ही एक औरत अपने बच्चे को पीट रही थी क्योंकि वो घर से पैसो को चूराकर भागा था 


कुछी समय के बाद बस वहां पर आ गई और मैं चढ गया मेरे साथ ही दो बूढी औरत बस में चढ
गई उन्हेने भी पटीयाला ही जाना था और हम ने भी इसी शहर आना था।


PATIALA


मैंने टिक्ट नही ली क्योंकि बस का कंडक्टर मेरा दोस्त था।

बूढे औरत ने कंडक्टर को टिक्ट देते कहा।

भाई ....सानू नाले ते लो दी ।

कंडक्टर बोला।

ठीक आ बेबे।

और यह कहते वो टिकटों को काटते हुऐ आगे चला गया

कुछी समय के बाद पटियाल आ गया और बस का आकर नाले पर रूक गई।


कंडक्टर उॅच्ची आवाज़ में बोला।

चलों वी नाले वाली बूढीओ 


कंडक्टर की इस बात पर सभी हॅसने लगे क्योंकि पंजाब में लडकीयां और औरतें सलवार
कमीज पहिनती है तो सलबार में भी नाला डाला जाता है। 




समाप्त

Friends, if you like this story then please do not forget share with family members and friends and
if you like this story please comments.

Thanks
Sukhwinder
(India Pb.)





SHARE THIS

Author:

I LOVE WRITING

Previous Post
Next Post