Panchvi interview पांचवी इंटरव्यू


मैं  घर से इंटरव्यू के लिए निकला और सड़क पर आकर ऑटो वाले का इंतजार करने लगा, घड़ी पर समय देखा तो
7:00 बजने में 1 मिनट बाकी था |  दूर सड़क पर एक  ऑटो वाला  चला आ रहा था , मैंने उसे रोकने के लिए अपना  
हाथ आगे किया परंतु वो उलटा हाथ मारता हुआ आगे चला गया, मन में केवल एक ही सवाल घूम रहा था कि मैं
इंटरव्यू के लिए कहीं लेट ना हो जाउ, तभी एक ऑटो वाला आया मैंने पूछा |

hindi laghu katha

भाईयां ............... स्टेशन चलोगे क्या ?

बैठ जाइिऐ |

भाईयां ............... थोड़ा तेज चलाना.............नहीं तो मेरी गाड़ी निकल जाएगी |

अरे भाईयां ............ यह पचांस से ऊपर नहीं जाता |

पास ही औरत बैठी थी  उसने मेरे से समय पूछा

बेटा ...............टाइम क्या हुआ है ?

7:15 हुए हैं आंटी |


hindi laghu katha

तभी अचानक ऑटो का टाईर फटने की आवाज आई, मैं एक दम डर गया  और मेरे पास बैठी वो औरत भी ऑटो वाले ने
आॅटो रोंका और नीचे उतर गया उसके साथ वी मैं नीचे उतर गया |


हे भगवान ............ यह तो टाईर फट गया |

भाईया ....... अब क्या होगा ?

कोई दूसरा देख लो |

उसने औरत को भी ऊंची आवाज में कहा

बहन जी ............ आप आप कोई दूसरा आॅटो देख लीजिए |

औरत मुंह मे बुडबुडाती हुई नीचे उतरी और किसी को फोन करने लगी और मैं दूसरे ऑटो का इंतजार करने लगा मन में
एक ही सवाल बार बार घूम रहा था की यह मेरी पांचवी इंटरव्यू है अगर इस बार भी लेट हो गया तो मेरे हाथ से यह भी
निकल जाऐगी उपर से जो पिता जी की गाली सुनी पडेगी वो अलग |

तभी पीछे से जोरदार आवाज आई मैंने पीछे की तरफ देखा तो ऑटो वाला खड़ा था मैं ऑटो में बैठ गया कुछ ही देर में
उसने मुझे स्टेशन छोड़ दिया, मैंने पूछताछ कंन्द्र पर गाड़ी के बारे में पूछा कर्मचारी ने बताया की गाड़ी आने में 10 मिनट बाकी हैं
तभी एक छोटी बच्ची आई जिसके कपड़े फटे थे और मुझसे पैसे मांगने लगी मैंने परस मे से 5 का नोट निकाला और उस छोटी
बच्ची को दे दिया, उसने कहा

भाईया ........भगवान तुम्हारा भला करे |

जय कहते वह आगे चली गई |

फिर  मैं Platform पर आकर खड़ा हो गया अचानक मेरी नजर एक लड़की की तरफ गई जो तेजी से चली आ रही थी और चली
जा रही बूढ़ी औरत में लगी दोनों गिर पडी आसपास खड़े लोग भाग कर लडकी को उठाने के आऐ परंतु बूढ़ी औरत के पास कोई
नहीं आया वो खुद उठने की कोशिश कर रही थी मैं पहले तो खड़ा देखता रहा
फिर भाग कर औरत की तरफ गया और उसको पकड़ कर उठा दिया |

मैंने उसको पास के एक टेबल पर बिठा दिया और बैग में से पानी वाली बोतल निकाल कर
पीने को पानी दिया उसने मेरे सर पर हाथ रख कर मेरा शुक्रिया अदा किया बूढ़ी औरत का

hindi story


मेरे बिना किसी ने हाल तक नही पूछा, परंतु लड़की का हाल पूछने के लिए लोगों का तांता लगा था ऐसा लग रहा था, जैसे पूरा
रेलवे स्टेशन के लोग उसके पास पहुंच गऐ हो


औरत के पूछने पर मैंने बताया की मैं इंटरव्यू के लिए जा रहा था, परंतु अब 
गाड़ी और इंटरव्यू दोनों मेरे हाथ से निकल चुकी है

औरत ने मुझे प्यार देते कहा की अब घबराने की जरूरत नही है, तुझे मैंअपने यहां नौकरी दूंगी, मैं थोड़ा हैरान हुआ उसने बताया कि
उनकी साबुन बनाने वाली फैक्ट्री है, उनको एक पढे लिखे लडके की जरूरत 
है जो लेन देन का हिसाब किताब रख सके |

तभी एक काले रंग की गाड़ी आई डाइवर ने औरत का समान लीजाकर गाडी में रख दिया उसने मुझे अपना पता लिखवा दिया
और मुझे प्यार देते हुए गाड़ी में बैठ कर चली गई

मैं हैरान था, की कल तक मैं तक मैं दो तीन हजार वाली नोैकरी के लिए तरस रहा था परन्तु आज मुझे दस पंदरा हजार नोैकरी मिल गई  
मन में भगवान का शुक्रिया अदा किया और टेबल पर पडे बैग को उठाकर वहां से घर की तरफ निकल गया  |


समाप्त

आपको हमारी यह रचना [Script/ Rachna kaisi lagi ] पसंद आई, तो आप से हमारा Request है, की आप इसको अपने Mitro के साथ साझा [ Share ] करें.

Thanks For reading, Friends if you like this Post then please share with Family members and friends. if you like this article then please comments.


---------- -👇

पैसे कमाने के बारे में जानने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे| paise kamane ke baare mein jankari chahte hain tou mere channel ko subscribe kare.  

यह भी पढ़े और एक दिन में मालमाल हो जाऐ

इंटरनेट से पैसे कमाने का दुसरा रास्ता

ख़बरी से जल्दी पैसे केैसे कमाऐ घर बैठकर





[ Tag ]

मित्रता पर शायरी | safaltaa ka rahasya in hindi | vishvtrading.com | 
दिल को छू सच के लिए हिंदी में प्रेरक विचारों | प्रेरणादायक लघु कहानी | अति लघु कथा | मार्मिक लघु कथा |  प्रेरक लघु कथाएं| लघु हास्य कथाएं | लघुकथा संग्रह | रोचक लघु कहानी | आध्यात्मिक लघु कथा

SHARE THIS

Author:

I LOVE WRITING

Previous Post
Next Post