Monday, June 1, 2020

Job vs laghu udyog नौकरी से नफरत करोंगे इसे पढ़ने के बाद



👉This article protected by D.M.C.A don't copy for any purpose यह लेख D.M.C.A द्वारा संरक्षित है.किसी भी उद्देश्य के लिए कॉपी न करें.(Google copyright policy) 

--------------------------------------------------------------------------

यह तय करना काफी कठिन difficult कार्य work होता है,कहने का मतलब matlab की हम अपने अंदर छूपे हूनर को नजऱ अंन्दाज कर देते है और यहीं हमारी सबसे बडी गलती है.


जिसका नतीजा यह की हमें इसके बारे में bare mein तब पता चलता है ​जब हमारे हाथ से मौका निकल जाता है।




यह बहुत कम लोग some people होते है,जो की सहीं मौके पर और सहीं समय पर यह पता लगा लेते है की मेरे अंदर जो हूनर है और जो टैलेट है वहीं मेरा बिजनस plan a business है और वहीं मेरा कैरीयर है।

Read also 



Coronavirus लॉकडाउन चलते घर बैठे शुरू करें यह ऑनलाईन काम कमाई लांखें में


job vs business | self employed | laghu udyog | gharelu udyog;
https://www.vishvtrading.com/


अगर देखा जाऐ,तो हमें वहीं कार्य work करना चहिऐ जो हमारा दिल कहता है और जो हमारा मन करके खुश happy होता है।


अगर आप agar aap इसके उलट कार्य करते हो,तो आपको काम करने में ना तो मजा आऐगा और नां ही आप का कार्य को करने में मन लोगा।


एक खोज से पता चला,की इंसान उस कार्य work में जल्दी कामयाबी sucess हासिल कर लेता है जिस का उसके अंदर हूनर talent हो।


यहां पर हम आपको एक {मोटी सी मिसाल} देकर समझाते है,तां की आपको समझने में कोई {परेशानी} problem pareshani ना हो और आप असानी के साथ asani se समझ सकें।



मान लीजिऐ |for example | मिसल के लिये


आप ने बीऐ b.a किया है यां फिर इससे उपर की अध्ययन किया है,आपका मन शुरू में बिज़नेस biznes idea करने का था.


आपके घर वालों ने आप पर दबा डाला की बिज़नेस business plan का क्यां पता कल को चले जा फिर ना चलें।


जैसे की हमने इन बैंक से लोन लिया laghu udyog loan | bank se loan

1.bank loan hdfc
2.bank loan sbi
3.bank loan state bank of india
4.personal loan sbi bank
5.personal loan axis bank
6.personal loan axis bank interest rate
7.personal loan axis bank online apply
8.personal loan icici bank interest rate
9.personal loan obc bank
10.business loan interest rate in axis bank
11.business loan interest rate in canara bank
12.business loan interest rate in hdfc bank
13.business loan interest rate in sbi


इन बैंको से लोन लेकर laghu udyog लगहु उदयोग चालू start किया,अगर वो कल को नां चला,तो तुम्हारा किया होगा,तुम्हारा बैंक से लिए लोन को कौन चुकऐगा।


उपर से udyog को चालू करने के लिए लाखों रू की जरूरत jaroorat होती ऐ,जो की हमारे पास तो नहीं.


अभी भी वक्त time है समझ जा अपनी जिद को छोड़कर और gharelu udyog करने की बात को अपने दिमाग से निकाल कर जॉब के लिए अप्लाई job ke liye apply कर दें।




तुम्हारे मामा के मंत्री के साथ अच्छे संबन्ध relationship है हम उनको बोलकर तुम्हारी जॉब लगा देगें।


अब आप परेशान हो जाते हो,मन में सवाल question पैदा होगें तरहां - तरहां के और दबाव में आकर आप नौकरी के लिए अप्लाई government job apply करने के लिए मजबूर हो जाते हो.


जब की अंदर से दिल मान नहीं रहा,तो ऐसे में मन नौकरी में नहीं लगता और आप कवेल नौकरी के लिए हीं रह जाते हो।


यहां पर अब बात आती है,अक्सर आप लोग बोल देते हो की kutir udyog gharelu udyog को चालू करने के लिए हमारे पास तो पैसे नहीं.


लेकिन — लेकिन,अगर आपके पास हूनर है तो आप एक छोटी सी चाय की दूकान chay ki dukan tea shops शुरू करके कल को उसको एक बड़े होटल the biggest hotel in the world में बदल सकते हो।



आपने यह अक्सर किसी अखबार के पन्न्ने newspapers पर पढ़ा भी होगा और किसी से सुना भी होगा।



आज के इस लेख में article mein हम आपको एक ydyog में तथा नौकरी में इसमें चाहे आप सरकारी नौकरी govt jobs कर रहे हो यां फिर कोई छोटी —मोटी मराईट नौकरी private jobs कर रहे हो।



दोनों में से क्यां अंतर difference है और क्यां — क्यां लाभ benefits है। यहां पर हम उसके बारे में आपसे विस्तार रूप full details से बात करने जा रहे है।


इसमें पढ़कर आपके मन में जो अपने मन मे बिज़नस business को लेकर गलत फैमी है वो दूर हो जाऐगी। 



Job vs laghu udyog | job vs business

 

1.नौकरी लेने के लिए सबसे पहिली बात की आपको बड़ी पढ़ाई higher education  करनी पडेगी,इसके​ लिए पहिले आपको लांखों खर्च करने पडेगे.



2.पढ़ाई करने के बाद आपके पास कोई गंरटी नहीं guarantee की आपको नौकरी मिले जा फिर नां मिले.


3.अगर सरकारी नौकरी नहीं मिलती,तो आपको कोई छोटी मोटी पाइ्रवेट नौकरी करनी पडेगी 



जिसमें सैलरी कवेल आपकी 10,000 हजार से ले​कर यहीं कोई 20,000 तक यां फिर इससे थोडी ज्यादा हो सकती है,जबकि आपने अच्छी पढ़ाई करने के लिए लाखों खर्च किऐ है.


4 आप चाहे सरकारी नौकरी govt jobs कर रहे हो,यां फिर पाईवेट कोई छोटी — मोटी नौकरी इसमें चाहे आप गरीब हो यां फिर अमीर आप अपने बॉस boss खुद नहीं हो,आपको किसी के नीचे काम करना पडेगा आपकी बहुत कम सुनी जा सकती है



5.आप अपने बॉस को सलाह advice दे सकते हो,बस इससे ज्यादा आपकी नहीं चलने वाली।



6.जॉब करते समय काम में गलती हो जाऐ mistake तो आपको अच्छी डांट पडती है,यह भी हो सकता है,आपकी तनखाह काट salary dudcation ली जाऐ।



7.आपको महिने की कवेल तय की गई तनखाह ही मिलती है,जैसे की अगर आपकी सैलरी 10,000 हज़ार salary calculator है तो आपको इतना ही मिलेगा।



8.अगर आप जॉब करते हो उपर से आपका पद छोटा है तो आपकी आवाज़ की कोई खास अहिमअत नहीं दी जाऐगी।



9.यह भी डर बना रहता है,की आपको कोई पता नहीं कब यहां से निकाल दिया जाऐ,क्योंकि अगर कल को कंपनी company हीं बंद हो गई,तो बॉस आपको थोडी रख सकता है।



10.मारकीट markeet bazaar में कहीं तरहां की जॉब है,लेकिन उनको पाने के लिए आपको उसी तरहां का काम आना चहिऐ और आपको उसी टाईप की पढ़ाई study की होनी चहिऐ।



11.आपको किसी किस्म की अज़ादी नहीं दी जाती,अगर कहीं बाहर किसी जरूरी कार्य के लिए जाना हो,तो बॉस से पूछ कर जाना पडता है।


12.आप​ बिना पूछे छूटी नहीं ले सकते।


13.आपको फालूते की निमयों की पालना करनी पडती है।


14.नौकरी में लड़कियां का काम दूसरों पर थोपा जाता है।




तो उपर आपने पढ़ा की जो लड़का और लड़की नौकरी करते है तो उनको कुछ इस तरहां की परेशानीयां का समना करना पडता है।


आइिऐ,आगे पढ़ते है की एक बिज़नेस करने वाला आदमी नौकरी करने वाले आदमी से क्यों आगे निकल जाता है.




1.छोटें - मोटे बिज़नेस gharelu udyog को चालू करने के लिए आपको किसी उच्च पढ़ाई study की जरूरत jaroorat नहीं होती.



2.आप अपने काम के मालिक खुद हो नां की कोई और कहने का मतलब है की आप अपने बॉस खुद हो.


3.यहां पर आप अपने काम लोगों से यानी की अपनी टीम business team से करवा सकते हो.


4.आपको किसी के नीचे काम work नहीं करना पडेगा।


5.आपको किसी से छूटी पर जाने के लिए नहीं पूछना पडेगा।


6.लेट हो जाने पर आप से कहीं यह नहीं बोलेगा की आप लेट क्यों आऐ हो।


7.बिज़नेस में सहीं और गलत wrong तरहां के निरने लेने का अधिकार कवेल आपके पास होता है और किसी के पास नीं।



8.काम करते समय आपसे कोई गलती होती है,तो आपको डांटने वाला कोई नहीं होता क्योंकि beacuse यहां पर आप अपने मालिक खुद हो।



9.बिज़नेस business कहीं पीढ़ीयों तक आपको काम कर देता है जबकी नौकरी job में ऐसा नहीं होता।



10.बिज़नेस kutir udyog अगर आपका अच्छा चलता ऐ तो आप महिने के लाखों कमा सकते हो।




अंत में :- तो कुछ यह अंतर है जॉब और अपने खुद के काम में बाकी आप पर है की आप क्यों करके खुश होते हो। जो कार्य करने में दिल को खुशी मिलती हो उसी में लग जाऐ।


लेकिन,अगर आप जॉब करते हो, तो कल को ​बच्चों को आपकी जॉब नहीं मिलेगी,आपके बच्चों को जॉब मिलेगी जा फिर नहीं इसकी कोई गंरटी नहीं है।


लेकिन,अगर आप एक चाय की छोटी सी रोहडी से चाय का कार्य चालू करते हो,तो आने वाले समय में आप इसको एक बडे होटल में तबदील कर लेते हो।


तो आपके बच्चें को कुछ भी करने की जरूरत नहीं,उनको बना बनया बिज़नेस मिल जाऐगा,पहिले इस होटल को आप चलते थे

अब आपके बच्चों चलते है।

----------------------------------------------------------
job or business mein antar | 10 difference between job and business in english | job vs business | job kare ya business | naukri ya business | what to choose business or job | govt job vs business | naukri aur business mein kya antar hai
naukri aur business mein antar | naukri aur business