पंजाब के गांव में संधारे वाले देसी बिस्किट बनाने का घरेलू उद्योग | बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे करें

👉This article protected by D.M.C.Adon't copy for any purpose यह लेख D.M.C.A द्वारा संरक्षित है.| किसी भी उद्देश्य के लिए कॉपी न करें


Introduction 

क्या आप जॉब करते हो ? Sarkari करते हो यां Private ? समाने वाले को देख कर मन में खिआल आया होगा,की मैं भी कोई पार्ट टाईम छोटा — मोटा काम धंन्धा देखू.


क्योंकि,मुझे जो पगार { Salary } मिलती है,उसमें मेरा गुजरा नही होता.कुछ ऐसा ही सोचता होगा हर वो बंन्दा जो कम तनखाह पर काम कर रहा होगा.


बहुत सी ऐसी जॉब हेै,जिस में आपको कवेल महिना का देखा जाऐ 10,000 हजार दिया जाता है जैसे की :- चॉकीदार की नौकरी,बैंक में  security gard की जॉब.


ऐसे लोगो का गुजारा बडी मुशिकल से होगा,एक दिन प्रति — दिन तेजी से बडती जा रही मंहिगी, जिस को हुकूमत रोकने में असफल {unsucessful} रही है,कम वेतन वाले साथ में कोई ना कोई part tiem job जरूर रहते है.

जैसे की :- जोमोटो में  लोग पार्ट - टाईम जॉब कर रहे है। आमेजन ने भी जोमोटों की तरहां डिलवरी बॉय की प्रकिया को चला दिया.


बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे करें | biscuit ka business kaise kare | how to start biscuit business
vishvtrading.com


बहुत से लोग Part time में नौकरी की जगा अपना घरेलू बिजनेस चला कर और अच्छे पैसे कमाते हैं.
आज के इस लेख में आपको एक और गांव में चलने वाला उद्योग के बारे में बताया जाऐगा.तो जानने के लिए बने रहे हमारे साथ आर्टीकल को बीज में ना छोड़े नही तो इसके बारे में नहीं जा सकते.



1.काम का नाम 

आटे के बिसकूट बनाना। पंजाबी देसी भट्टी वाले. 



बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे करें | बिस्कुट बनाने का बिजनेस
vishvtrading.com



आटे के बिस्कुट पर एक नज़र

देसी भटी वाले बिसकूट और बीच लाल थारी का नाता पंजाब के लोगो से सदीयों पुराने है, लोग इनको साल के महिने सावन में बनवाते है.

बात खाने की जाऐ इनके सवाद को शब्दों में ब्यान करना कठिन होगा,भले ही बजार में आपको तरहां —2 के Biscuit देखने को मिलते होगा.

परन्तु असल बात की इन के समाने उनका सवाद फीका रहेगा,आप एक देसी भट्टी वाले बिसकूट को खा लो तो यकीन रहेगा की फिर से इनकी एक कटोरी मांगेगे,पंजाब के गांव के लोग इनको बडे उत्साह से बनाते है,तां की सवाद में कोई कमी ना रह जाऐ.



इनकी सबसे बडी खासियत । benefits

1.इनमें कोई मिलावट नही.
2.सस्ते में त्यैार किऐ जाते है.
3.इनको तैयार करवाने के लिए आप अपने अनुसार इनमें समान डलवा सकते हो.

पंजाब Gaon mein रहने वाले लोग अपनी बेटी की Marriage के बाद सावन के महिने में अपनी बेटी को तीयां/राखी के समय यह संन्धारे वाले बिसकूट बनवा कर बजते है.

यह फेस्टीवल /तैयार साल में एक बार आता है और यह तैयार तीया राखी के साथ भी जूडा है, जिसमें लोग मिठाई की जगा ज्यादातर इनका उपयोग करते है.

पंजाब के गांव में रहने वाले लोग इनको बनाने के लिए सुबह से ही सारा समान ले कर भट्टी वाले के पास चले आते है.

क्योंकि बाद में भट्टी पर भीड इतनी की कई बार ते शांम तक आपनी बारी का इंतजार करना पडता है.


तो पता चल गया आपको देसी बिसकट का तो चलिए आगे चले.



बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे करें 


इस  घरेलू बिजनेस को करने वाले लोग आजकल पंजाब में घर बैठे अच्छा पैसा कमा रहे है. क्योंकि यह घरेलू उद्योग पंजाब में इन दिनो जोरो पर चल रहा है.

आज के इस लेख में आपको इसी के बारे में बताया जायेगा,की एक आम इंसान को अगर बिस्कुट बनाने का बिजनेस करना है तो उसको क्यां - क्यां समान चहिऐ. 


1.जगा 

आपको एक कमरे जतनी जगा की जरूरत होगी,क्योंकि आपके पास इनको बनाने के लिए लोगों की भीड लगी रहेगी,

इस लिए अगर जगा ज्यादा होगी तो और अच्छी बात रहेगी। लोग अराम से बैठे रहेगे,दुसरी तरफ भटी के आगे दो चारपाइ्र जितनी जगा होना लाजमी है,यहां पर मशीन और दसरा समान रखना होगा।




2.भटी बनने का समान ईट। पाइप

बात बनने,की इससे कम से कम 10,000 हजार तक ईट लगेगी और भटी सीमिंट की जगा पीली मिटटी से तैयार करवाऐ,एक पाइप की जरूरत होगी,जिसको चिमनी बोलेगे यहां से धूआ बाहर जाऐगा.



how to start a biscuit business from home | how to start biscuit business
vishvtrading.com



3.बिसकूट पकाने वाले पलेट

भटी में पकाने के लिए लोहे की पलेट की जरूरत होगी,कम से कम 10 पलेट चाहिऐ जिनको आप गांव के लोहा मिस्तरी से बना सकते हो.





4.एक लंबा लोहो का सरीया 

पलेट को भटी के अंदर रखने के लिए लंबा  सरीयां चहिऐ,कम से कम 20 फूट तक,बजार में लोहा दुकान से खरीद ले.





5.बिस्कुट बनाने की मशीन | biscuit banane ki machine

मशीन के बिना इनको नही बना सकते, आप biscuit मिस्तरी से तैयार करवा ले,जिसमें आपका कुल खर्च 5 हजार से 10,000 हजार तक आऐगा. 





6.सुखी लकडियां

भटटी में आग जलाने के लिए आपके पास सुखी लडकियां होनी चहिऐ Gaon या शहर से ले सकते हो.





7 .पंखा । मेज।चारपाई 

लोग भूटी पर Biscuit बनवाने के लिए आस - पास के गांव से आइऐगे, तो उनके बैठने के लिए मेज /चारपाई का इंतमाज होना लाजमी है,साथ में पानी की भी व्यवस्था करें.


{कुछ यह समान की जरूरत पडेगी भटी का निर्माण करने के समय, उमीद होगी आप जान गऐ होगे}


2.बिस्कुट बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए कितने पैसे चहिऐ


इस कार्य में आपका ज्यादा पैसा भटटी को बनाने के लिए खर्च होगा और बाकी जगा पर पैसों का कम खर्च रहेगा,बिस्कुट बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए कुछ इस तरहां से होने वाले खर्च के बारे में पता लगा सकते हो.

1.राज मिस्तरी का खर्चा — 500 पर दिहाडी.
2.ईट खरीदने के लिए पैसा — 10,000.
3.लोहे की पलेट और लोहे का सरीयां का खर्च — 6,000.
4.आग के लिए सुखी लडकियां — 2500. 
5.मशीन — 4,000- 5000.

इसमें मेज/ टेबल बाकी है,यह हर घर में होगा,अगर नही है तो चारपाई से काम चला लेना, रही बात हवा वाले पंखे की यह भी होगा आपके पास,तो कुल हो गया 40,000 हज़ार तक की जरूरत होगी.




3.गेहूं के आटे के बिस्कुट बनाने की विधि  । aate wale biscuit kaise bante hain

aate wale biscuit kaise bante hain | aate wale biscuit banane ka tarika
vishvtrading.com


नीचे गेहूं के आटे के बिस्कुट बनाने की विधि बनाने की वीधी के बारे में बताने जा रहे है,आप से निवदेन करेगे की Jankari को ध्यान से पढ़े,तां की आपको कोई problem ना आ सके।

1.साफ सूधरा गेहू का आटा.
2.देसी घी.
3.चीनी.
4.मीठा सोढा.
5.खोपा.


1- खाली साफ बडा बरतन ले, गेहू के आटे को सान ले और बाद में बरतन में डाल दे, उसके बाद जरूरत के हिसाब से आटे में पानी { water } डाले पानी साफ सूधरा होना चहिऐ.

2-पानी डालने के बाद देसी घी को डाले जरूरत अनुसार, मीठा जरूरत के मुताबिक, पोडकर, मीठा सोढा यह डालने के बाद आटे को अच्छी तरहां से गून ले, इस प्रकियां को कम से कम 15 मन्टि का समय लागेगा.

3-आटे तैयार हो जाने के बाद मशीन में डाले और बिसकूट बनकर मशीन के माथिमय से नीचे आ जाऐगे.

4-कच्चे बिसकट को लोहे के पलेट में रख कर भटी के अंदर रख दे और कुछ समय के लिए पकने दे, याद रहे की ज्यादा time के लिए अंदर ना रखे, क्योंकि ऐसा करने से इनको आग लग जाऐगी.

5-पक्क जाने के बाद इनको भटी में से लोहो के सरीयां दुबारा बाहर निकाले और ठंडे होने का wait करें, आपके गेहूं के आटे के बिस्कुट यांनी की sandhare wale biscuit बनकर तैयार है.





4.रेट 

रेट हर बिस्कुट बनाने वाले का अलग —2 होगा,रेट तय करते समय अपने ईलाके के आसपास काम कर रहे बिस्कूट बनाने वालों का Rate एक बार पता करके तय करें.

1.किलों बिसकूट का रेट — 70 रू है.





5.विज्ञापन 

आप काम के लिए विज्ञापन का सहियोग ले, इसका यह फेयिदा hai की विज्ञापन के साथ काम और तेजी से बढेगा. ऐसा करने से लोगों को आपके bare main पता चलेगा.





6.विज्ञापन पर खर्चा 

अखबार या पोस्टर दुबारा विज्ञापन करवाते हो,तो आपका खर्च ज्यादा हो जाऐगा,यहां पर आपको एक असान तरीका बतागे,आप गांव में से किसी बंन्दे से यह काम करवाऐ.

वो 500 रू लेकर यह काम कर देगा और आपको पोस्टर पर हजारें नही खर्च करने पडेगे,पोस्टर को आस पास के ईलाके की दीवारों पर लगावा दे ऐसा करने से लोगों को और बढ़ियां तरीके से पता चलेगा.




7.सिखलाई

बिस्कुट बनाना कोई मुशिकल नही,एक 12 साल का बच्चा इनको असानी से तैयार कर सकेगा,बात प्रशिक्षण की करें,इसकी कोई जरूरत नही है,एक दिन में बिस्कुट बनाना  सीख सकते हो.




8.पढाई

एक कम पढ़ा लिखा इंसान भी इस काम को चालू करके घर बैठे कैसे पैसा कमा सकते हैं,या फिर यू समझ ले की यह अनपढ़ आदमी के लिए इस तरहां का गांव में उद्योग सबसे अच्छा होगा.




9.दुकान का नाम

कंपनी छोटी हो यां फिर बडी। दुकान छोटी हो या बडी। हर किसी का एक Name होता है और नाम बिजनेस में मुख्य रोल अदा करता है. 

जैसे की लोग Google को ज्यादा इसके मालिक को कम जानते होंगे,इसी तरहा लोग आपका नाम भूल जाऐगे लेकिन आपकी दूकान का नाम नहीं भूलेंगे,बिस्कुट बनाने वाली भटी का बढ़ियां सा naam रखें. 





9.काम का समय

सुबह 6 बजे से लेकर शाम के 7 बजे तक रहेगा.







10.भगवान की पूजा करें

किसी भी कार्य को चालू करने से पहिले, जिस भगवान को मानते हो उनकी पुजा जरूर करें,क्योंकि कही ना कही Business को safal बनाने में परमेश्वर का भी हाथ होता है.





11.लेबर

इस छोटे गांव में उद्योग चालू करने के बाद,एक से दो आमदीयों की आवश्यकता होगी,इसमें आप घर के किसी दूसरे members से भी काम ले सकते हो.

काम चल जायेगा,ऐसे करने से जो Salary बंन्दे रखने के लिए दोगे.वह बच सकती हैं और आपकी income ज्यादा हो जाऐगी.




12.सिपलाई करें 

हो सकें तो इनको दुकानों। पर चाय वाली रोहडी पर। होटलों पर। कॉलज । स्कूट कंटीन अदि यहां पर सपलाई करें,ऐसा करनें से काम और तेजी से बढेगा और ज्यादा Profit होगा,आनलाईन {Online} भी सपलाई करें,लेकिन इसके लिए आपको जीएसटी नंबर { GST NUMBER } की जरूरत होगी.






13.कमाई एक दिन की।

यह आप पर होगा,की आप एक दिन में कितना कमा सकते हो। फिर भी आपको समझाने के लिए यहां पर एक मोटी सी उदहराण देगे, जिसको देख कर आपको पता चल जाऐगा।

1.रेट प्रति किलों के हिसाब से — 50 रू
2.एक दिन में आटा आया — 45 किलों
3.50x45 — 2250
तो आपकी एक दिन की आय 2250 होगी। 





14.30 दिनों की इतनी होगी  

एक दिन की पता चल गई, चले अब 30 दिनों की जान लेते है। इसमें कोई मुशिकल बात नही आप 30 दिन की आय के बारे में ऐसे पता लगा सकते हो।

एक दिन की— 2250
30 दिनों की— 2250 x 30
टोटल — 67500 रू





15.शुद्ध आय।

बात शुद्ध आय की जाऐ तो पहिले — 2 आमदनी कम ही रहेगी , क्योंकि बिजनस को खडा करने के लिए खर्चा किया है, फिर भी खर्चा निकाल कर आपको अच्छी बचत हो सकती है । नेट आमदनी ऐसे देख सकते हो,अगर  30 दिनों की कमाई 60,000 हजार होती है, तो इसमें से जो खर्चा हुआ उसको घटा देना शुद्ध आय निकल आऐगी।



अंंत में।

तो कुछ इस तरहां से आप kam punji me chote kaam ki suruwat कर सकते है.सच में यह एक ऐसा धंन्धा रहेगा, जिसको घर की औरतें भी चालू कर सकती है. इसमें कामई जो होगी वो सरकारी नौकरी करने वाले से भी कही ज्यादा। सोचिऐ मत काम पर लग जाऐ कही ऐसा ना हो की गांव में काई दुसरा इस काम को करना शुरू कर दे।

दुसरी बडी बात जो लोग बिसकट बनावाने आऐगे,उनमें से ऐसा कोई नही होगा जो एक किलों बनावाऐ,हर कोई 4 से लेकर 5,6 किलों बि​सक्टि करवाऐगा।

Please fallow us 

---------------******----------------



 
 

SHARE THIS

Author:

I LOVE WRITING

Previous Post
Next Post